Categories

Posts

ओडि़शा के तूफान पीडि़तों की खुले ह्रदय से सहायता करें

टी. वी. समाचार पत्र आदि से सभी को ज्ञात हो गया होगा कि ओडि़शा का समुद्र तट क्षेत्र तूफान से बहुत क्षतिग्रस्त हो गया। गंजाम आदि इलाकों में तूफान से भयंकर तबाही हुई है। इस तूफान से लाखों घर नष्ट हो गये वे निराश्रित होकर खुले मैदान में पड़े हैं, ओडि़शा के सबसे पुरानी आर्यसमाज पोलसरा, कन्या गुरुकुल तनरड़ा की गौशाला तथा गुरुकुल आश्रम कुन्दुली की गौशाला की छतें पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई हैं। ऐसी आपातकालीन में पीडि़तों की सहायता करना आर्यसमाज अपना कर्त्तव्य मानता है अन्यथा विदेशी मिशन इसका लाभ उठाते हैं।

गुरुकुल आश्रम प्रत्येक आपातकालीन के समय में जनता जनार्दन की सहायता करता आ रहा है। इस बार भी सहायता का विस्तृत कार्यÿम बनाया गया है। सभी धर्मप्रेमी सज्जनों से निवेदन है कि यथाशीघ्र अधिक से अधिक सहयोग करके पीडि़त लोगों की सहायता कर भगवान का आशीर्वाद लें। इन पीडि़त लोगों को नए कम्बल, तालपत्री आदि की सहायता देनी है। अपनी सहायता ैण्ठण्प् खरियार रोड़ में गुरुकुल आश्रम आमसेना के खाते नं. 11276777048 के द्वारा अथवा चैक अथवा ड्राफ्ट के रुप में भेजने की कृपा करें।
– स्वामी धर्मानन्द सरस्वती, संचालक, गुरुकुल आश्रम आमसेना

Leave a Reply

Your email address will not be published.